कोशिश करते हैं

यादों के धागे सीने की कोशिश करते हैं,
हम उन लम्हों को फिर जीने की कोशिश करते हैं|

ओस से हलकी थी उन अश्कों की बूंदें,
हम जाम-ए-बेखुदी फिर पीने की कोशिश करते हैं|

तुम्हारे बिना जिंदगी नहीं है जिंदगी,
हम हर दिन फिर भी जीने की कोशिश करते हैं|

बिछड़ा हुआ है अपने साहिल से ‘वीर’,
हम लहर लहर सफीने की कोशिश करते हैं|

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
%d bloggers like this: