मेरा सुखन

मेरी उदासी मेरी गहराईयों का नतीजा है,
मेरा सुखन मेरी तन्हाईयों का नतीजा है|

इतना ज़हर कैसे भर गया मेरे दिल में,
मेरी कड़वडाहट तुम्हारी नादानियों का नतीजा है|
मेरा सुखन मेरी तन्हाईयों का नतीजा है…

मैं ढूंढता रहा एक साया अंधेरों में,
मेरा हश्र मेरी रवानियों का नतीजा है|
मेरा सुखन मेरी तन्हाईयों का नतीजा है…

हकीक़त ने मेरा दामन खाली ही रखा,
मेरा हौसला मेरी गुमानियों का नतीजा है|
मेरा सुखन मेरी तन्हाईयों का नतीजा है…

इंसान था मगर इंसान ना रहने दिया ,
मेरी शख्सियत मेरी बुराइयों का नतीजा है|
मेरा सुखन मेरी तन्हाईयों का नतीजा है…

इन बेसबब सांसों का मैं करता क्या ‘वीर’,
मेरी क़ज़ा मेरी पशेमानियों का नतीजा है|
मेरा सुखन मेरी तन्हाईयों का नतीजा है…

4.00 avg. rating (79% score) - 1 vote
  • sangeetaswarup

    हकीक़त ने मेरा दामन खाली ही रखा,मेरा हौसला

    मेरी गुमानियों का नतीजा है|

    मेरा सुखन मेरी तन्हाईयों का नतीजा है…

    बहुत खूबसूरत गज़ल

  • nice

%d bloggers like this: