उनकी गली में जाना हुआ

बाद मुद्दत उनकी गली में जाना हुआ,
अजनबी हो गया हर शख्स पहचाना हुआ|

वो खिड़की अब हमेशा बंद रहती है,
वो शख्स इस शहर से बेगाना हुआ|
बाद मुद्दत उनकी गली में जाना हुआ…

भूल भी जा उन यादों को अब ‘वीर’,
उनको तुझसे बिछड़े एक ज़माना हुआ|
बाद मुद्दत उनकी गली में जाना हुआ…

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
%d bloggers like this: