जिंदगी खूबसूरत है

गर फासले ज़रूरी हैं, तो फासले बनाये रखिये,
जिंदगी खूबसूरत है, जिंदगी यूँ ही सजाये रखिए |

रोज़मर्रा की जिंदगी में, जिंदगी रोज़ मरती है,
कभी तो जी उठेगी, हर मोड़ पर आस लगाये रखिए |

पोटली में दफ़न हैं, माज़ी के कई ज़ख्म गहरे,
वो तुम्हें भूल जायेंगे, आप उन्हें भुलाये रखिए|

वस्ल की बेचैनी हो, या हिज्र की मुसीबतें,
दोनों उसकी इनायतें हैं, दिल लगाये रखिए|

अँधेरा जायज़ है, अँधेरे को रहने दो ‘वीर’,
सिर्फ अपने दिल में शमा जलाये रखिए|

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
  • sangeetaswarup

    पोटली में दफ़न हैं, माज़ी के कई ज़ख्म गहरे,
    वो तुम्हें भूल जायेंगे, आप उन्हें भुलाये रखिए|
     
    बहुत खूबसूरत गजल 

%d bloggers like this: