अधिकार नहीं मिलता

कहीं माँ का दुलार नहीं मिलता,
कहीं बाप का प्यार नहीं मिलता |
कुछ अभागि औलादें ऐसी भी हैं,
जिन्हें अपना अधिकार नहीं मिलता |

उम्र भर ढूंढते फिरते हैं बेगानों में,
मगर कोई तलबगार नहीं मिलता |
जैसे किसी वीरान पड़े मकां को,
बरसों किरायेदार नहीं मिलता |

मौत से एक लम्हें का भी,
किसी को उधार नहीं मिलता |
और अच्छी कीमत दे जिंदिगी की,
ऐसा कोई साहूकार नहीं मिलता |

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
%d bloggers like this: